सचमुच खुदाबख्श है जम्मू-कश्मीर की बेपनाह खूबसूरती

0
185
views

जम्मू और कश्मीर की सुंदरता का जितना भी वर्णन किया जाए कम है। कई लोगों ने इसकी सुंदरता पर कई आर्टिकल भी लिखे हैं। हालांकि सच्चाई तो यह है कि शब्द की शक्ति कभी भी उस रहस्य को समझा नहीं सकती जो इस राज्य के पास है। उत्तर भारतीय राज्य हमेशा से ही प्राकृतिक सौंदर्य से संपन्न रहे है। शायद यही वजह है, यात्रा प्रेमियों को ये जगह बार-बार आकर्षित करती है। कई हनीमून जोड़ों के लिए जम्मू-कश्मीर एक आदर्श जगह है, वहीं कई लोग एडवेंचर की तलाश में यहां खिंचे चले आते हैं। कुछ यहां आने को एक चुनौती के रूप में लेते हैं वहीं कुछ के लिए यह एक खूबसूरत टूरिस्ट स्पॉट है। चाहे जो वजह हो, आपकी जो भी रुचियां हैं, जम्मू और कश्मीर में घुमाई करने के लिए हमारी 10 शीर्ष स्थानों की सूची आपको अपने विकल्पों को बेहतर तरीके से जानने में मदद करेगी।

श्रीनगरः अनंत सुंदरता

राजधानी श्रीनगर, जम्मू-कश्मीर का सारा रूप अपने अंदर छुपाए हुए है। झेलम के किनारे चुपचाप बैठा यह शहर बहुत कुछ कहता है। श्रीनगर की जिंदादिली का एहसास खूबसूरत नौकाओं, शानदार हाउसबोट्स, बर्फ से ढके हुए पहाड़ों, डल और नगेन झील के स्पार्कलिंग पानी से बखूबी मिलता है। हजरतबल श्राइन और जामा मस्जिद, शंकराचार्य मंदिर की दिव्यता, फ्लोटिंग सब्जी बाजार की झलक; स्वर्ग के खिताब के साथ राजधानी के सम्मान में चार चांद लगाते हैं। श्रीनगर पक्षी गतिविधियों, वॉटर साइकलिंग, गोल्फिंग, ट्रेकिंग और नौकायान के लिए बेहतरीन विकल्प देता है।

लेहः दैवीय अनुभव

लेह में सौंदर्य और शांति का अतुल्य मेल है। खूबसूरत पहाड़ों, अल्पाइन झीलों, दैवीय गोम्पा के साथ लेह जम्मू-कश्मीर में सर्वश्रेष्ठ स्थानों में से एक है। श्रीनगर से 434 किलोमीटर दूर स्थित यह एक अलग ही दुनिया है। आल्की मठ, हेमिस मठ, मथो मठ, स्पितुक मठ और थिक्से मठ जैसे आध्यात्मिक स्थानों की वास्तुशिल्प भव्यता पर्यटकों को आंखें चकाचौंध कर देते हैं। जनरल जोरावार किला, स्टॉक पैलेस और जामा मस्जिद में दर्शकों को आश्चर्य से भर देते है। लेह में एडवेंचर और आध्यात्मिकता का एकदम सही मिश्रण मिलेगा। प्रकृति की सुंदरता से लैस लेह हिमालयी पैनोरोमा को देखने का अवसर प्रदान करता है।

क्रेडिट- विकीपीडिया

जम्मूः दुआओं का शहर

संरक्षित वैष्णो देवी मंदिर, जम्मू  में आने के लिए शीर्ष स्थानों में से एक है। मंदिरों के शहर के रूप में प्रसिद्ध जम्मू शांति और शांति की चाह रखने वालों को आमंत्रित करता है। रघुनाथ मंदिर, रानबैरेश्वर मंदिर, महामाया मंदिर, पीर बाबा और पीर खोओ में बेमिसाल दिव्यता सभी को आकर्षित करती है। एक बहू मंदिर है, जो राजसी बहू किले के अंदर स्थित है। यह मंदिर देवी काली या बावे वाली माता को समर्पित है। मंदिरों के अलावा यहां बहू किले और मुबारक मंडी पैलेस के वास्तुशिल्प भव्यता को देखा जा सकता है। बाग-ए-बहू (बहू का किला) में एक्वैरियम भी पर्यटकों की आंखों को आकर्षित करता है, क्योंकि यह देश में सबसे बड़ा भूमिगत मछलीघर है।

क्रेडिट- विकीपीडिया

गुलमर्गः एडवेंचर की गठरी

स्कीइंग-स्वर्ग के रूप में पहचाने जाने वाला, गुलमर्ग वास्तव में जम्मू और कश्मीर में घूमने के लिए सबसे अच्छा स्थान है। श्रीनगर से 52 किलोमीटर दूर फूल से ढके घास के मैदान को गुलमर्ग का नाम दिया गया। एडवेंचर पसंद करने वाले लोगों के लिए गुलमर्ग स्वर्ग से कम नहीं। गुलमर्ग में होने वाली स्कीइंग, ट्रेकिंग, स्नोबोर्डिंग, गोल्फिंग देखकर आपको इस जगह से प्यार हो जाएगा।

क्रेडिट- विकीपीडिया

उधमपुरः शाही यादें

राजा उधम सिंह के नाम पर बना उधमपुर शहर, जम्मू क्षेत्र का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। हरे रंग के परिवेश और यूकेलिप्टस के पेड़ों से अटा पड़ा उधमपुर जम्मू एवं कश्मीर के सबसे अच्छे पर्यटक आकर्षणों में से एक है। इतिहास प्रेमियों को यह शहर नए अनुभव प्रदान करता है। यहां पर महाभारत काल के कई अवशेष अभी भी मौजूद हैं। उधमपुर में भूमिगत नदी बहती है, देविका। जिसे गंगा की बहन माना जाता है। उधमपुर जाएं तो मेन शहर से लगभग 40 किमी दूर स्थित राजा सुचेत सिंह द्वारा निर्मित रामनगर किला कि यात्रा करना न भूलें।

कठुआः यात्रा और अनुभव

सूफी तीर्थस्थलों की एक बड़ी संख्या के कारण कठुआ को सूफियों का शहर भी कहा जाता है। ये शहर एक सुंदर सी नदी के किनारे पर स्थित है। कठुआ में जसरोटा मंदिर, माता सुंदरुकोट, माता बाला सुंदरी, सप्त सरबोर और एयरवान मंदिर सहित कई धार्मिक स्थल हैं। कठुआ में ड्रीम नामक एक मनोरंजन पार्क भी स्थापित किया गया है जिसमें एक शानदार रॉफ्टिंग का मजा लिया जा सकता है। कठुआ से 20 किमी दूर स्थित उज बैराज एक सुखद पिकनिक स्थल है।

क्रेडिट- विकीपीडिया

कुपवाड़ाः कश्मीर का ताज

प्राकृतिक सौंदर्य और आकर्षण के लिए प्रसिद्ध कुपवाड़ा जम्मू और कश्मीर पर्यटन का एक महत्वपूर्ण अंग है। घास के भव्य मैदान, अल्पाइन पहाड़ों और गहरे साफ पानी की झीलें कुपवाड़ा को एक महत्वपूर्ण पर्यटक स्थल बनाते हैं। ऐंच माउंटेन कश्मीर के घाटी के ऊपरी भाग को देखने का अवसर प्रदान करता है। कई ऐतिहासिक गांव भी हैं जैसे कि गश्ये, कर्णह, जो इतिहास के प्रेमियों को खूब लुभाते हैं।

क्रेडिट- विकीपीडिया

कारगिलः बहादुरी और सुंदरता

बहादुर दिल कारगिल भारत-पाकिस्तान सीमा पर समुद्र तल से लगभग 2800 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। जोजिला पास से जुड़े कारगिल का भारत के इतिहास में महत्वपूर्ण स्थान है। राज्य के लद्दाख क्षेत्र में स्थापित, कारगिल, जम्मू और कश्मीर में देखने के लिए सबसे दिलचस्प स्थानों में से एक है। यह ट्रैकर्स, कैम्पर्स और पर्वतारोहियों के लिए महान अवसर प्रदान करता है। नून पर्वत पर्वतारोहण अभियानों के मौके देता है। कारगिल पैन्सी-ला झील और सुरू घाटी के ट्रेकिंग के लिए शानदार विकल्प हैं।

क्रेडिट- विकीपीडिया

ये भी पढ़ें:

अतीत के पन्ने खोलने में मदद करता है मध्य प्रदेश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here