बीस साल के हो गए हो और अब तक रिवर राफ्टिंग नहीं की तो क्या किया

0
1085
views

गर्मियों के मौसम में चूते पसीने, सूखते गले, चक्कर खाते हुए भेजे के बीच हमें सब कुछ खराब सा लगने लगता है। लेकिन ऐसा नहीं है, गर्मियों में भी मजे करने के लिए लोगों के पास लिए बहुत से मौके होते हैं, जिनमें से एक है रिवर राफ्टिंग। कैंपिंग और ट्रेकिंग की तरह राफ्टिंग भी एक रोमांचकारी गतिविधि है। ऊंची-नीची लहरों से एक छोटी-सी नाव में आगे बढ़ते जाना, एक अलग तरह का अनुभव है। मनोरंजन के साथ-साथ यह हमें साहसी एवं जुझारु भी बनाता है। यंगस्टर्स में रिवर राफ्टिंग को लेकर खासा क्रेज रहता है। पिछले 10-15 सालों में राफ्टिंग एडवेंचर का गेम लोगों को काफी पसंद आ रहा है। आइए उन जगहों पर एक नजर डालते हैं जो भारत में सबसे अच्छा राफ्टिंग अनुभव देते हैं।

ऋषिकेश, उत्तराखंड

ऋषिकेश रिवर राफ्टिंग के लिए बहुत ही मशहूर स्थान है। जब किसी व्यक्ति को राफ्टिंग के बारे में बताना होता है तो मन में सबसे पहला नाम ऋषिकेश का ही आता है। गंगा के किनारे बसे ऋषिकेश में पूरे देश से राफ्टिंग के लिए लोग आते हैं। यहां सुरक्षा के सभी मानकों को ध्यान में रखा जाता है। ऋषिकेश पहुंचकर आप डिस्टेंस के अनुसार राफ्टिंग बोट को बुक करवा सकते हैं। ये रही वहां होने वाली राफ्टिंग की लिस्ट- ब्रह्मपुरी से रामझूला तक 3 घन्टे में 12 किलोमीटर के हिसाब से, शिवपुरी से रामझूला तक 4 घंटे में 18 किलोमीटर के हिसाब से, मैरी ड्राइव से रामझूला तक 6 घंटे 27 किलोमीटर के हिसाब से, कौडियाल से रामझूला तक पूरे दिन के लिए किलोमीटर के हिसाब से।

लद्दाख, जम्मू और कश्मीर

अगर आपको सिर्फ इतना ही पता है कि लद्दाख बाइक, ट्रेकर्स और पहाड़ प्रेमियों के लिए ही है तो आप गलत हैं। इस स्थान पर करने के लिए बहुत कुछ है। आपने जांस्कर नदी के बारे में तो सुना होगा, जिस पर सर्दियों के मौसम में लोकप्रिय चादर ट्रेक किया जाता है। इसी नदी पर जुलाई और अगस्त के महीनों में राफ्टिंग की जाती है। 12,000 फीट की ऊंचाई पर राफ्टिंग एक पूरी तरह से अलग अनुभव है। नदी उच्च पहाड़ी की दीवारों के बीच बहती है। नदी के तेज बहाव के साथ, तेज लहरों के बीच राफ्टिंग करने का मजा ही अलग है।

ओरछा, मध्य प्रदेश

ओरछा साहसी लोगों को एक अच्छा अवसर प्रदान करता है। ओरछा में बहने वाली बेतवा नदी जंगलों के बीच से होकर गुजरती है। यहां पर रिवर राफ्टिंग करने में बहुत आनंद आता है क्योंकि राफ्टिंग के दौरान हरे-भरे वातावरण का मजा ले पाते हैं। यहां का वातावरण तकरीबन हमेशा सुहावना रहता है।

कुल्लू, हिमाचल प्रदेश

यहां पर सफेद पानी में राफ्टिंग के लिए सबसे बढ़िया रैपिड्स हैं। इस क्षेत्र में राफ्टिंग टूर कुल्लू शहर से चार किलोमीटर की दूरी पर पर्डी से शुरू होता है और झरी के नाम से एक स्थान नाम के स्थान पर समाप्त होता है। कुल दूरी लगभग 14 किलोमीटर की है। यहां राफ्टिंग करने वाले यात्रियों को पीर पंजाल रेंज के दृश्यों का आनंद मिलता है, जो कुल्लू-मनाली के पूरे क्षेत्र को कवर करती है। रैपिड्स यहां पर शुरुआती स्तर ग्रेड 1 से ग्रेड 3 तक है।

 

कुर्ग, कर्नाटक

राफ्टिंग के लिए कुर्ग भी बहुत अच्छी जगह है। कुर्ग का कॉफी जिला भी उत्साही लोगों को राफ्टिंग के लिए अपनी ओर आकर्षित करता है। कुर्ग राफ्टिंग के लिए अद्भुत अवसर प्रदान करता है। यहां पर राफ्टिंग बारापोल नदी पर की जाती है। नदी के ऊपरी भाग में लगभग चार से पांच रैपिड्स हैं और निम्न सेक्शन में छह से सात के बीच ग्रेड स्तर 1 से 4 के बीच है। कुर्ग में राफ्टिंग का मौसम जून से सितंबर तक है।


ये भी पढ़ें:

जिंदगी की धक्कमपेल से ऊब चुके हों तो यहां घूमकर आएं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here